निताइ भगवान के वायुलेखन से धन-प्राप्ति

Vayulekhan Sequence

💰 जय निताइ! कलियुग में श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम, निताइ भगवान (सन् १४७३-१५४१) के रूप में एकचक्र धाम में प्रगटे। उन्होंने इस संसार के सभी जीवों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति और दुखों का निवारण किया, और अभी भी कर रहे हैं| निताइ भगवान ने आजीवन असंख्य चमत्कारों के द्वारा इस जगत के हर जीव का भला किया। १५४१ में निताइ भगवान के एकचक्र बाँकेबिहारी में तिरोभाव के पश्चात, उनकी कृपा को श्रद्धालु जन उनके परमदयालु नाम के वायुलेखन के द्वारा पूर्ण रूप से प्राप्त कर रहें हैं, और उसे सम्पूर्ण विश्व में बाँट रहें हैं।

💰 वायुलेखन से समृद्धि

निताइ भगवान के नाम का वायुलेखन एक ऐसा असाधारण मार्ग है जो आपको बहुत जल्द ही धनी, स्वस्थ, सुन्दर, सफल, यशस्वी, बलवान, बुद्धिमान, चिन्ता-मुक्त, प्रशान्त, एवं प्रसन्न बनाएगा। “निताइ” मन्त्र प्राचीन एवं मूल संस्कृत अक्षरों से बना एक सर्वशक्तिशाली वैदिक मंत्र है। आप सभी को इस दिव्य निताइ” मन्त्र के वायुलेखन का ज्ञान मुफ्त में बाँटा जा रहा है। इसलिए इसे एक बार ज़रूर करके देखिये।

💰 वायुलेखन से शान्ति

निताइ वायुलेखन महा-चमत्कारी होने के साथ साथ एक उत्तम मैडिटेशन भी है। यह आपके मस्तिष्क में दिव्य आनन्द का संचार करता है। यह आपको पूर्ण मानसिक शान्ति और सुख प्रदान करेगा। निताइ भगवान का वायुलेखन हर श्रेणी के व्यक्ति के लिए संपन्नता एवं इच्छापूर्ति का मुफ्त, सरल, एवं प्रमाणिक उपाय है।

🍄🍄 निताइ वायुलेखन की प्रक्रिया

🌺🌺 तर्जनी उंगली से “निताइ” मन्त्र के १० अक्षरों को एक-एक करके सामने हवा में बड़े आकार में लिखिए। लिखे जाने वाले प्रत्येक अक्षर के आकार का बारीकी और अति-स्पष्ट रूप से मन में बन्द आँखों द्वारा, या सामने खुली आँखों से, ध्यान कीजिये । यह प्रतिदिन ३० बार (१० मिनट) दोहरायें। 🌺🌺

🌺 अति-शीघ्र परिणामों के लिए, आप इस प्रक्रिया को प्रतिदिन १०८ बार या ज़्यादा भी कर सकते हैं। इसे करते समय अपनी कोहनी को किसी सतह का सहारा भी दे सकते हैं। निताइ भगवान के प्रबल नाम, चरित, और गुणों के श्रवण-कीर्तन-रटन और निताइधाम एकचक्र की यात्रा से वायुलेखन में और भी जल्दी सिद्धि मिलती है। निताइ वायुलेखन का अभ्यास किसी भी समय, स्थान, या अवस्था में किया जा सकता है। इसमें और कोई भी नियम या प्रतिबन्ध नहीं हैं।

💰 वायुलेखन से सफलता

विश्वभर में निताइ वायुलेखन अतिशय चमत्कारी सिद्ध हुआ है। जो भी नियमित रूप से इसका अभ्यास कर रहे हैं, उनके जीवन में अकस्मात् ही धनप्राप्ति हो रही है, और उनकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो रही हैं। वायुलेखन व्यक्ति को हर कार्य में सफलता दिलाता है तथा सभी प्रकार के कष्ट, रोग, और तनाव से छुटकारा भी दिलाता है। आपको विश्वास नहीं आ रहा है तो इसे एक महीना करके देखिए।

💰 वायुलेखन में स्पष्ट ध्यान

निताइ मन्त्र का प्रत्येक अक्षर आपके जीवन को सुन्दर तथा उत्तम बनाएगा। इसलिए आपसे नम्र अनुरोध है कि आप जितना स्पष्ट-रूप से इनका मानसिक ध्यान कर सकें उतना ज़रूर कीजिये। वायुलेखन के समय जितना “निताइ” का स्पष्ट ध्यान होगा, उतनी ही जल्दी आप अपने सभी लक्ष्यों तक पहुँच जायेंगे।

💰 वायुलेखन में स्पष्ट ध्यान

निताइ भगवान का वायुलेखन एक परिणाम-उन्मुख और मुफ्त अभ्यास है। आप इसकी शक्ति से प्राप्त होने वाले लाभों के द्वारा ही इसे परख सकते हैं। निताइ वायुलेखन किसी भी प्रकार से आपकी मौजूदा मान्यताओं और आस्थाओँ को बदलने की कोशिश नहीं करता।

🍀 अस्वीकरण

वायुलेखन का उपयोग जीवन में मेडिकल चिकित्सा उपचार और मेहनत को प्रतिस्थापित करने के लिए कदापि नहीं करना चाहिए। और न ही यह जीवन के आवश्यक प्रयासों से पलायन को प्रोत्साहन देता है। वह केवल इन सबमें आपका सहयोग करता है। हमें निताइ भगवान और उनके वायुलेखन के चमत्कारों से बहुत लाभ हुआ है। इसलिए हम निःस्वार्थ भाव से बिलकुल मुफ़्त में इसका प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। यह कुछ भी खोए बिना सब कुछ पाने का सौदा है। गवाइएगा मत!

निताइ भगवान और उनके वायुलेखन से जो चमत्कार निताइभक्तों ने हमें भेजे हैं, वह कुछ लोगों के अनुभव और उनकी अपनी परिस्थितियों पर आधारित हो सकते हैं। हम कोई ऐसी गारंटी नहीं दे रहे हैं कि आपको भी निताइ भगवान के वायुलेखन करने से वही लाभ होंगे। हर कोई एक जैसे परिणामों की उम्मीद नहीं कर सकता। परिणाम व्यक्ति दर व्यक्ति भिन्न होंगे। यह मुफ़्त है, आप करके देख सकते हैं। किसी भी विशिष्ट बीमारी के संबंध में निताइ भगवान और उनके वायुलेखन को वैज्ञानिक दृष्टि से उपचार के रूप में मान्य नहीं किया गया है। हम किसी भी चमत्कारी इलाज के संबंध में कोई वादा नहीं कर रहे हैं और न करेंगे।

और जानकारी के लिए पढ़िए :
निताइ भगवान कौन हैं?
निताइ दरबार

Read to know more:
Who is Nitai Bhagwan?
How to Become Rich by Lord Nitai’s Vayulekhan
Nitai Darbar

2 thoughts on “निताइ भगवान के वायुलेखन से धन-प्राप्ति”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *